परमहंस दाती जी महाराज और श्रीमती वसुंधरा राजे के बीच धर्म,संस्कृति, शिक्षा, स्वास्थ्य, ज्ञान, विज्ञान एंव योगदान पर चर्चा हुई

श्री सिद्ध शक्तिपीठ शनिधाम पीठाधीश्वर सद्गुरू शनिचरणानुरागी श्री श्री 1008 महामंडलेश्वर परम पूज्य दाती जी महाराज ने मंगलवार को राजस्थान की माननीया मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया से मुलाकात की। जयपुर में हुई इस मुलाकात के दौरान परमहंस दाती जी महाराज और श्रीमती वसुंधरा राजे के बीच धर्म,संस्कृति, शिक्षा, स्वास्थ्य, ज्ञान, विज्ञान एंव योगदान जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई। दोनों के बीच हुई इस मुलाकात के दौरान प्रदेश के बहु-प्रतिक्षित योजना मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के अंतर्गत राज्यभर में किए जा रहे कार्यों पर भी विस्तृत चर्चा हुई।

WhatsApp Image 2017-05-30 at 18.51.28

दाती महाराज ने जहां मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान के तहत श्री शनिधाम सेवा का मौका देने के लीए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। वहीं श्रीमती वसुंधरा राजे ने मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन योजना में अहम योगदान देने के लिए दाती श्री को कोटि-कोटि धन्यवाद ज्ञापित किया। दाती श्री ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री को इस योजना को जन-जन तक पहुंचाने में हर संभव सहयोग देने का आश्वासन दिया। तो मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने दाती श्री की अथक प्रयासो से श्री शनिधान ट्रस्ट द्वारा प्रदेश भर में किए जा रहे कार्यों के लिए आभार प्रकट किया। इस मौके पर श्री महंत रविंद्र पुरी जी महाराज महानिर्वाणी अखाड़ा, श्री महंत राधेश्याम पुरी जी महाराज, श्री महंत श्रृद्धा पुरी जी महाराज, सचिन जैन, रंजीत मलिक, अशोक भोलेचा, नरेश गांधी, उमेश बसोया आदि साधु संतों के साथ मौजूद थे।
उल्लेखनीय है कि परमहंस दाती महाराज विभिन्न धार्मिक, सांस्कृतिक एवं साहित्यिक समारोहों के माध्यम से मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन योजना को प्रदेश के हर गांव में पहुंचाने का प्रयास कर रहे हैं। दाती श्री की प्रेरणा से श्री शनिधाम ट्रस्ट राजस्थान के गांवो मैं
दाती जी स्वयं गांव-गांव में जाकर पानी बचाने का संदेश देते रहते हैं। दाती श्री का कहना है कि “जल है तो कल है, जल ही जीवन है”। साथ ही दाती जी महाराज मुख्यमत्री वसुंधरा राजे से अनुरोध किया की आलावास पधारने का निमंत्रण दिया

Related posts

Leave a Comment