एक गेंद में सात रन

एक गेंद में सात रन

क्रिकेट में एक गेंद में मैक्सिम 6 रन ही बनाए जा सकते हैं। यहां यह हो सकता है कि अगर नो बॉल हो जाए तो इससे ज्यादा रन भी बन सकते हैं। लेकिन क्या आपने कभी सुना नहीं होगा कि जब गेंद ना बॉल हो और ना ही वाइड फिर भी 6 रन से ज्यादा बना दिए। इंग्लैंड के घरेलू टी -20 मैच में ऐसा ही हुआ। बल्लेबाज थे स्टीव डेविस जिन्होंने एक गेंद में 7 रन बटारे। समरसेट से स्टीव डेविस खेलते हुए कवर्स में शॉट खेला और दौड़कर…

Read More

The movement for discarding the Chinese goods will invigorate self-respect and self-dependence: Govindacharya

The movement for discarding the Chinese goods will invigorate self-respect and self-dependence: Govindacharya

Shri K.N. Govindacharaya, the founder of Rashtriya Swabhiman Aandolan, expressed in the context of the nationwide awakening movement – “Say No to China”, “Be Bhartiya Buy Bhartiya” that this movement will strengthen the national self-respect and self-dependence both.   If we have a glance at the past history and geography for the last two hundred years, we will come to know that on one side where the Chinese boundaries have expanded, the boundaries of India have shrunk. China is an expansion-oriented nation whereas India has never tried to trespass any…

Read More

सोनू निगम के जन्मदिन के मौके संगीतमयी शाम का आयोजन

सोनू निगम के जन्मदिन के मौके संगीतमयी शाम का आयोजन

प्रदूषण नियंत्रण जागरुकता का संदेश देते हुए संरक्षण हरित अभियान की ओर से गणमान्य लोगो को पौधे गिफ्ट किए गए। (नई दिल्ली – ३० जुलाई २०१७ )  हिन्दी सिनेमा के सुप्रसिद्ध पार्श्वगायक सोनू निगम अपने गानों से आज भी श्रोताओं के दिलों पर राज कर रहे है।  सोनू निगम के जन्मदिन के मौके पर दिल्ली के लोधी रोड स्थित इंडिया इस्लामिकसेंटर ओडिटोरियमे में एक् म्यूजिकल इवनिंग का आयोजन किया गया। ये आयोजन सोनू निगम के शिष्य संदीप मिश्रा ने किया। इस संगीतमयी शाम का हिस्सा बनने सैंकडों की संख्या में…

Read More

स्वाभिमान और स्वावलम्बन को पुष्ट करेगा चीनी माल के बहिष्कार का अभियान: गोविंदाचार्य

स्वाभिमान और स्वावलम्बन को पुष्ट करेगा चीनी माल के बहिष्कार का अभियान: गोविंदाचार्य

राष्ट्रीय स्वाभिमान आंदोलन के संस्थापक के एन गोविंदाचार्य ने आंदोलन द्वारा संचालित राष्ट्रव्यापी जनजागरण अभियान “से नो टू चाइना (Say No to China), बी भारतीय बाय भारतीय (Be Bhartiya Buy Bhartiya)” के सन्दर्भ में बताया कि यह अभियान राष्ट्र के स्वावलम्बन और स्वाभिमान दोनों को पुष्ट करेगा।   अगर हम पिछले 200 वर्षों के इतिहास और भूगोल पर नज़र डालें तो पाएंगे कि जहाँ एक और चीन की भौगोलिकसीमाएं बढ़ी हैं वहीँ दूसरी तरफ भारत की सीमाएं घटी हैं। चीन एक विस्तारवादी प्रकृति का देश है। वहीँ भारत ने कभीकिसी अन्य देश की सीमाओं का अतिक्रमण करने की कोशिश नहीं की है। पिछले कुछ दिनों से भारत चीन भूटानसीमा पर विवाद बढ़ा है। चीन धमकी की भाषा का भी प्रयोग कर रहा है।  चीनी उत्पादों के बहिष्कार का यह अभियानभारत की जनता का चीन को जवाब साबित होगा।  उन्होंने देश के लोगों से इस अभियान के समर्थन का आह्वानकिया। आंदोलन के संयोजक पवन श्रीवास्तव ने कहा “अभियान भारत के जन जन की भावनाओं का शंखनाद है। उन्होंनेचीनी सामानों की होली जलने के कार्यक्रम में ज्यादा से ज्यादा लोगों की भागीदारी सुनिश्चित करने की अपीलआंदोलन के कार्यकर्ताओं से की।“ आंदोलन के युवा नेता अभिमन्यु कोहाड़ ने “युवाओं से समाजसत्ता के प्रतिनिधि के रूप में हर जगह अभियान कानेतृत्व संभालने की अपील की।“ स्वदेशी आंदोलन के संयोजक के वी  बीजू ने “चीनी सामन के बहिष्कार और स्वदेशी के ही उपयोग का आह्वानकिया।“ राष्ट्रीय संगठन मंत्री बसवराज पाटिल ने कार्यक्रम का विस्तृत स्वरूप बताते हुए कहा कि देश के ज्यादा से ज्यादास्थानों पर “स्वाभिमान संवाद“, “संकल्प मार्च” और “स्वाभिमान सभा” का आयोजन किया जायेगा।  सभा के बादचीनी उत्पाद दहन का कार्यक्रम होगा जिसमें स्थानीय जनता अपने घर से लाये गए चीनी सामनों की आहुति देगी। Share on: WhatsApp

Read More

राजभर जाति को अनुसूचित जाति की श्रेणी में शामिल किया जाए- हरिनारायन राजभर, सासंद।

राजभर जाति को अनुसूचित जाति की श्रेणी में शामिल किया जाए- हरिनारायन राजभर, सासंद।

-सम्मेलन में देशभर से आए प्रतिनिधिनियों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया। -उत्तर प्रदेश में राजभर जाति की करीब दस फीसदी आबादी। – महाराजा सुहेलदेव सम्मान समारोह से नवाजे गए विशिष्ट लोग। -प्रदेश के प्रतिनिधियों का चुनाव भी हुआ। नईदिल्ली- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का राष्ट्र के विकास के लिए सबको साथ देने का संकल्प के साथ राजभर समुदाय भी आगे आया है। प्रधानमंत्री के संकल्प को पूरा करने के लिए सासंद हरिनारायन प्रयासरत हैं। उन्होंने राजभर समुदाय के समग्र विकास के लिए उन्हें अनुसूचित जाति में शामिल करने की मांग की है।…

Read More